Wednesday, 29 January 2014

Rajan Iqbal Reborn Series - 7th Novel: Jism Badalne Wale

राजन इकबाल रीबॉर्न सीरीज़ का 7th उपन्यास प्रस्तुत है.


Available on:

FLIPKART  AMAZON

आप इसकी e-book निम्न वेबसाइट्स से अभी प्राप्त कर सकते हैं:


Search on your device with 'shubhanand' and you can see all the novels. If you don't have newshunt, it can be easily downloaded on any mobile/tab with any software.

कहानी की शुरुआत होती है सेंट्रल जेल से, जहाँ किशनलाल नामक डाकू जेल के डॉक्टर के साथ भाग जाता है. उसी रात जेल में काले जादू में निपुण एक तांत्रिक की मौत हो जाती है. पुलिस जब तक किशनलाल के बारे में कुछ पता लगाती, एक और अज़ीब बात जेल में होती है- मरे हुए तांत्रिक का भाई खुद को जेल का डॉक्टर बताने लगता है. राजन और शोभा इस गुत्थी को सुलझाने में लग जाते हैं. दूसरी तरफ - इकबाल, सलमा व नफीस एक शादी अटैंड करने कार से जा रहे होते हैं. रात को जंगल के बीच रास्ता खराब होने की वजह से वे एक बियाबान होटल में रुक जाते हैं. उसके बाद भूत-प्रेत, जादू-टोने का एक भयावह खेल शुरू होता है. इस खौफनाक खेल के पीछे कौन लोग हैं? उनका उद्देश्य क्या है? कौन किसके शरीर में मौजूद है? जानने के लिए पढ़ें रहस्य, रोमांच, हॉरर और हास्य से लबरेज ये कहानी.

लेखक: शुभानन्द
संपादक: रूनझुन
कवर: ज्योति सिंह

Friday, 10 January 2014

Rajan Iqbal Reborn Series and JAJ on Newshunt

राजन इक़बाल रीबॉर्न सीरीज़ के सभी उपन्यास प्रिंट के साथ अब E-Book format में  NEWSHUNT पर भी उपलब्ध हैं. 

Download NewsHunt App for JavaSybianWindowsAndroid  & Iphone.


सभी E-books मात्र Rs 30-50 में उपलब्ध हैं.

Download the app on your mobile or Tab and read  



एक बार फिर डूब जाइये आपने चहेते किरदारों की दुनिया में. अपने बचपन की यादें ताज़ा करें- राजन, इक़बाल, सलमा, शोभा के साथ
साथ में हैं- बलबीर सिंह (जो अब एस पी बन गए हैं), चीफफिंगही, जेनेट पावेल, और राजन के पिता-कर्नल विनोद, जो कि एक बार फिर लौट आये हैं.